मेरी माँ की गाँड काफी मोटी
मेरा नाम सोनिया है। आप मुझे गाँड सोनिया कह सकते है।। क्योकि मेरी गाँड काफी मोटी और भरी हुई है।। मेरी उम्र 28 साल है । मेरा साइज 40-38-46 है।।।
मेरी माँ का नाम मानसी है । जिनकी उम्र 54 साल है।। उनकी बॉडी काफी सुडौल है । उनका साइज 34-28-38 है। मेरी माँ का तलाक हो चुका है जब मैं छोटी थी । तब से मेरी मम्मी ने हमे बड़ा किया है
मेरी एक छोटी बहन भी है जिसका नाम पूजा है।। वो अभी 21 साल की है। उसका साइज 32-26-34 है।
।।।।।।
अब कहानी पर आती हूं।

ये कहानी शुरू होती है जब मैं 18 साल को थी।। मुझे रात को बिस्तर गीला करने की बीमारी थी । मैं रोज़ रात को पेशाब कर देती थी बेड पर, जिस कारण मम्मी मुझे नंगी सुलाती थी

एक दिन सुबह की बात है। जब मैं सो आर उठी, तो देखा कि मम्मी भी नंगी सो रही थी, और मेरी बहन भी नंगी सो रही थी। मेने मम्मी को पहली बार पूरी नंगी देखा था। उनकी बूब्स काफी बड़े थे और निप्पल भी बड़े थे पिंक कलर के, उस टाइम मुझे नही पता था कि सुसु वाली जगह को चुत कहते है, मम्मी की सुसु वाली जगह पर बहुत सारे बाल थे , में और मेरी बहन काफी छोटी थी तो हमारी सुसु पर बाल नही आये थे । मेने उठ कर बड़े ध्यान से मम्मी की सुसु देखने लगी, पर सुसु पर बाल होने से मुझे वो दिखाई नही दे रही थी।। मम्मी की गाँड काफी बड़ी थी मोटी मोटी और जाँघे भी काफी मोटी थी । मेरे उस टाइम निप्पल निकले थे छोटे छोटे से, गुलाबी कलर के, मुझे काफी जोर से सुसु लगी थी पर बाथरूम में नही गयी , वंही मम्मी के पास ही सुसु कर दी । में नीचे से पूरी गीली हो गयी थी अपने सुसु से, पर एक गलती हो गयी।।मेरी सुसु की धार मम्मी के मुह पर भी चली गयी,

मेरी सुसु मम्मी के मुह पर गिरी तो मैं डर गई , मम्मी अचानक से उठी और मेरी सुसु निकलते हुए देखने लगी । मेने सोचा कि वो डाँटेगी पर उन्होंने मेरा सुसु चाट लिया जो उनके चेहरे पर गिरा था, और मेरा सुसु उनकी बूब्स को पूरा गिला कर दिया । जब मेरा सुसु बंद हुआ तो मम्मी बोली कि बेटी ये क्या किया तूने, पूरी गीली कर दी मुझे अपने सुसु से । मैने मम्मी को सॉरी कहा , तो उन्होंने मुझे जोर से गले लगा लिया और बोली कि बेटी सॉरी नही बोलते तू मेरी बच्ची तो है । तू बार बार भी मेरे ऊपर सुसु करेगी तो मैं कुछ नही कहूंगी। मुझे अच्छा लगा जब मम्मी ऐसे बोली तो, वो अभी भी मुझसे चिपकी हुई थी।। अचानक से मुझे गीला महसूस होने लगा तो मैं थोड़ी पीछे हटी तो देखी, मम्मी की सुसु निकल रही है। में कभी मम्मी को देखती कभी उनकी सुसु को, । मेने मम्मी से पूछा मम्मी आप तो इतने बड़े हो, आपकी सुसु यंहा क्यों निकली, मम्मी बोली बेटी में तो रोज़ ऐसे ही सुसु करती हूं बेड पर । में समझ नही पा रही थी।।कि रात को बिस्तर कोंन गिला करती है मम्मी या में, मेने मम्मी से पूछ लिया तो मम्मी बोली
कि बेटी तू तो रोज़ रात को 2 बार पेशाब करती है ।
तेरे बिस्तर गीला करने की वजह से मुझे भी अच्छा लगता है तो मैं भी मूत लेती हूं यंही , और गीले बिस्तर पर तुझसे चिपक कर सो जाती हूं,
मेने मम्मी से पूछा कि मम्मी क्या आपको गीले बिस्तर पर सोना अच्छा लगता है क्या , तो वो बोली
हां बेटी मुझे गीले बिस्तर पर सोना पसंद है, जब तू छोटी सी थी तब मैं तेरे सुसु से नहाती थी। तेरा सुसु उस टाइम बहुत टेस्टी था। आज फिर तूने वही स्वाद भर दिया मेरे मुह में तो रहा नही गया और मेने भी सुसु कर दिया,
अब मुझे डर नही लग रहा था, लेकिन मुझे सुसु आ रही थी। क्योंकि उस टाइम पूरा सुसु नही कर पाई थी, मेने मम्मी को बोला मम्मी मैं बाथरूम में जाकर आती हूँ
मम्मी ने पूछा क्या करने जा रही है, मेने बोला कि मम्मी आपके डर से पूरा सुसु नही हुआ था अब जा रही हूं
मम्मी बोली बेटी मुझसे अभी भी शर्मा रही है, में तेरी माँ हूँ, आजा यंही कर ले मेरे ऊपर बैठ के जैसे बचपन मे करती थी,
मुझे शर्म आ रही थी तो मम्मी उठी और मुझे गोद मे उठा के बेड पर चढ़ गई और लेट गयी फिर मुझे अपने ऊपर बैठा दी ।।



Read More Related Stories
Thread:Views:
  मेरी बहन है मेरी पत्नी 187,387
  समधन की गाँड मारी-1 6,009
  समधन की गाँड मारी-2, samdhan-ki-gaand-mari-2 6,959
 
Return to Top indiansexstories